Adjustment of Capital in Partnership – 2 Journal Entries – In Hindi

Advertisement

साझेदारी फर्म के पुनर्गठन के समय हमें सभी भागीदारों की पूंजी का समायोजन (Adjustment of Capital) करना होता है। समायोजन सद्भावना का हिस्सा, पुनर्मूल्यांकन पर लाभ, आरक्षित, और संचित लाभ को स्थानांतरित करते हैं।

साझेदारी में पूंजी का समायोजन क्या है (What is Adjustment of Capital in Partnership): –
Advertisement

साझेदारी में पूंजी के समायोजन (Adjustment of Capital) का अर्थ है, साझेदारों द्वारा तय किए गए नए लाभ बंटवारे के अनुपात के अनुसार पूंजी का हिस्सा बनाना। यदि साझेदारी में पहले से निवेश की गई राशि की तुलना में अधिक पूंजी की आवश्यकता होगी या पूंजी की कम राशि होगी तो साझेदार क्रमशः पूंजी के अपने हिस्से को नकद में पेश करेंगे या वापस लेंगे।

Advertisement
Advertisement

साझेदार के पूँजी खाते के आवश्यक शेष को बदल दिया जाता है क्योंकि साझेदारी फर्म के पुनर्गठन (reconstitution of partnership) के समय नए लाभ विभाजन अनुपात की गणना की जाती है और सभी पुराने आरक्षित या संचित लाभ / हानि, संपत्ति और देनदारियों के पुनर्मूल्यांकन के अंतर को सभी भागीदारों में विभाजित किया जाता है ( नए साझेदार के प्रवेश के मामले में पुराने साझेदार) अपने पुराने अनुपात में। यदि एक भागीदार अपने लाभ के हिस्से का त्याग करता है तो उसे अन्य सभी लाभ प्राप्त करने वाले भागीदारों द्वारा भुगतान किया जाएगा। तो, उसके पूंजी खाते की शेष राशि में वृद्धि होगी और फर्म में उसके लाभ के हिस्से के अनुसार आवश्यक शेष राशि से अधिक होगी तो वह केवल पूंजी की आवश्यकता को पूरा करने के लिए पूंजी के हिस्से की निकासी करेगा।

पूंजी के समायोजन के लिए जर्नल प्रविष्टियाँ (Journal Entries for the Adjustment of Capital): –

पिछले लेखों में पहले से ही चर्चा की गई आरक्षित या संचित लाभ / हानि खाते की शेष राशि और संपत्ति और देनदारियों के पुनर्मूल्यांकन की जर्नल प्रविष्टियाँ। कृपया उनके नाम के साथ संलग्न लिंक पर क्लिक करके जांचें। इस लेख में, हम केवल निम्नानुसार दिखाए गए पूंजी के समायोजन की जर्नल प्रविष्टियों पर चर्चा करेंगे:-

Date  Particulars
L. F.DebitCredit
      
(i) For excess capital withdrawn by the partner
 Partners’ Capital A/cDr. XXXX 
           To Cash/Bank A/c  XXXX
 (Being excess capital withdrawn by the partners )   
     
(ii) For the amount of capital introduced by the partner
 Cash/Bank A/c Dr. XXXX 
           To Partners’ Capital A/c  XXXX
 (Being adjustment made for transfer the balance of revaluation a/c to retiring partners’ capital/current a/c)   
     

 

विषय पढ़ने के लिए धन्यवाद

कृपया अपनी प्रतिक्रिया कमेंट करें जो आप चाहते हैं। अगर आपका कोई सवाल है तो कृपया हमें कमेंट करके पूछें।

Check out T.S. Grewal’s +2 Book 2020 @ Official Website of Sultan Chand Publication

+2 Book 1-min
+2 Book 1
Advertisement

Leave a Reply

close