Stock Exchange-its meaning and 8 Important functions – In Hindi

स्टॉक एक्सचेंज (Stock Exchange) वह बाजार है जहां सरकार, कॉर्पोरेट कंपनियों, अर्ध-सरकारी कंपनियों की प्रतिभूतियां खरीदी और बेची जाती हैं।

स्टॉक एक्सचेंज का अर्थ (Meaning of Stock Exchange):

यह (Stock Exchange) पूंजी बाजार का एक अभिन्न अंग है जहां व्यापार व्यवस्थित तरीके से किया जाता है। अच्छी तरह से संरचित नियमों और विनियमों के अनुसार, व्यापारियों द्वारा प्रतिभूतियों को खरीदा और बेचा जाता है। शेयर बाजार (Stock Exchange) प्रतिभूतियों के मूल्यांकन में मदद करता है जो मांग और आपूर्ति के कारकों पर आधारित होते हैं।

परिभाषा (Definition):

एक संगठन या व्यक्तियों का निकाय, चाहे वह प्रतिभूतियों की खरीद, बिक्री और व्यवहार में व्यवसाय को विनियमित करने और नियंत्रित करने में सहायता के उद्देश्य से निगमित हो या नहीं।

The Indian Securities Contracts (Regulation) Act of 1956

स्टॉक एक्सचेंज के कार्य (Functions of Stock Exchange):

स्टॉक एक्सचेंज (Stock Exchange) के कार्य इस प्रकार हैं

1. आर्थिक बैरोमीटर (Economic Barometer):

स्टॉक एक्सचेंज शेयर की कीमतों में सभी बड़े और छोटे बदलावों को रिकॉर्ड करता है। इसे अर्थव्यवस्था का तंत्रिका तंत्र कहा जाता है, जो अर्थव्यवस्था की स्थिति को दर्शाता है।

2. प्रतिभूतियों का मूल्यांकन (Valuation of Securities):

शेयर बाजार प्रतिभूतियों के मूल्यांकन में मदद करता है जो मांग और आपूर्ति के कारकों पर आधारित होते हैं। प्रतिभूतियों का मूल्यांकन निवेशकों, लेनदारों और सरकार को उनके अन्य कार्यों को करने में मदद करता है।

3. लेनदेन संबंधी सुरक्षा (Transactional Safety): 

इसने सुनिश्चित किया कि स्टॉक एक्सचेंज में कारोबार की जाने वाली प्रतिभूतियों को सूचीबद्ध किया गया है, और प्रतिभूतियों की सूची कंपनी की स्थिति को सत्यापित करने के बाद की जाती है। सभी सूचीबद्ध कंपनियों को शासी निकाय द्वारा निर्धारित नियमों और विनियमों का पालन करना होगा।

4. आर्थिक विकास में योगदानकर्ता (Contributor to Economic Growth): 

व्यापार की यह प्रक्रिया निरंतर विनिवेश और पुनर्निवेश से संबंधित है, जो पूंजी निर्माण और बाद में अर्थव्यवस्था के विकास के अवसर प्रदान करती है।

5. इक्विटी निवेश के प्रति जनता को जागरूक करना (Making the public aware of equity investment): 

स्टॉक एक्सचेंज में एक सूचना प्रणाली शामिल होती है जो इक्विटी बाजारों में निवेश करने और लोगों को प्रतिभूतियों में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए नए मुद्दों को शुरू करने में मदद करती है।

6. अटकलों की गुंजाइश प्रदान करता है (Offers scope for speculation): 

व्यापारिक प्रतिभूतियों की स्वस्थ अटकलें प्रदान करके, स्टॉक एक्सचेंज प्रतिभूतियों और तरलता की मांग और आपूर्ति सुनिश्चित करता है।

7. तरलता की सुविधा देता है (Facilitates liquidity): 

प्रतिभूतियों की बिक्री और खरीद के लिए एक तैयार मंच प्रदान करके, स्टॉक एक्सचेंज निवेश के मामले में तरलता प्रदान करता है।

8. बेहतर पूंजी आवंटन (Better Capital Allocation): 

स्टॉक एक्सचेंज निवेशकों के लिए पूंजी के बेहतर आवंटन में मदद करता है ताकि अधिकतम लाभ अर्जित किया जा सके। लाभदायक कंपनियां अपने शेयरों का सक्रिय रूप से कारोबार करेंगी, और ऐसी कंपनियां इस बाजार से नई पूंजी जुटाने में सक्षम हैं।

विषय पढ़ने के लिए धन्यवाद

कृपया अपनी प्रतिक्रिया के साथ टिप्पणी करें जो आप चाहते हैं। अगर आपका कोई सवाल है तो कृपया हमें कमेंट करके पूछें।

References: –

https://vkpublications.com/

Also, Check our Tutorial on the following subjects: 

    1. https://tutorstips.in/financial-accounting/
    2. https://tutorstips.in/advanced-financial-accounting-tutorial

Leave a Reply